What is portfolio in share market | शेयर मार्केट में पोर्टफोलियो कैसे बनाएं

शेयर मार्केट आज के समय में एक जाना विषय बन गया है। आज यह हर किसी की पहुंच में है। आज हर वर्ग के लोग इससे जुड़ रहे है और ट्रेडिंग के साथ साथ निवेश भी कर रहे है। लोग अपने पोर्टफोलियो को अच्छे से अच्छा बनाना चाहते है। लेकिन पोर्टफोलियो होता क्या है? इसे कैसे बनाते है यह जानना भी बेहद खास हो जाता है। आज के इस आर्टिकल में हम आपको What is portfolio in share market, शेयर मार्केट में पोर्टफोलियो कैसे बनाएं, यह जानने जा रहे है। तो आईए सबसे पहले तो पोर्टफोलियो क्या होता है यह जान लेते है। इसके बाद हम अन्य चीज़ों को भी जानेंगे।

What is portfolio in share market

शेयर मार्केट में आप जो कुछ भी निवेश करते है उनके समूह को ही पोर्टफोलियो कहा जाता है। मान लिजिए अगर आपने एचडीएफसी, पेटीएम और टाटा मोटर्स के शेयर खरीद के रखे है तो यह आपका पोर्टफोलियो कहा जाएगा। इसी तरह अगर आपने बॉन्ड, ईटीएफ और म्यूचुअल फंड जैसे मनी मार्केट में इन्वेस्ट किए हुए है तो यह भी आपका पोर्टफोलियो कहा जाएगा। यह बस एक टर्मिनोलॉजी है जो आपके निवेश के समूह को बताता है।

आज हर कोई एक प्रॉफिटेबल और बैलेंस्ड पोर्टफोलियो बनाना चाहता है। ताकि वह एक अच्छा निवेश कर सके और फाइनेंशियली आगे बढ़ सके। लेकिन यह जितना आसान दिखता है उतना है नहीं। आज हम इस आर्टिकल में आपको शेयर मार्केट में पोर्टफोलियो कैसे बनाएं यह भी बताएंगे। तो आईए इसे जानते है।

शेयर मार्केट में पोर्टफोलियो कैसे बनाएं

हम उम्मीद करते हैं कि आपने “What is portfolio in share market” के बारे में जान लिया है और अगर आप जानना चाहते हैं कि शेयर मार्केट में पोर्टफोलियो कैसे बनाएं  या How to make portfolio in share market तो इसकी जानकारी भी आपको नीचे बताई गई है .

शेयर मार्केट में पोर्टफोलियो बनाना कोई मुश्किल काम नहीं है। आप जो कुछ भी इन्वेस्ट करते है चाहे वह शेयर में हो, बॉन्ड में हो या म्यूचुअल फंड्स में सब मिलाकर ही आपके पोर्टफोलियो का निर्माण होता है। इससे अच्छे से बनाना, सही जगह इन्वेस्ट करना, इसे डाइवर्सिफाई बनाना ही एक अच्छे पोर्टफोलियो की पहचान होती है। कुछ बातो का ध्यान रख कर आप एक अच्छा और फायदेमंद पोर्टफोलियो बना सकते है। आईए इसे जानते है इसके बाद हम पोर्टफोलियो को चेक करना भी सीखेंगे।

प्रॉफिटेबल और बैलेंस पोर्टफोलियो कैसे बनाएं

एक अच्छा पोर्टफोलियो डाइवर्सिफाइड होना चाहिए। शेयर मार्केट में एक कहावत काफी आम है ‘Don’t put all your eggs in a basket’ इसे ही डायवर्सिफिकेशन कहा जाता है। कहने का मतलब है को आपको अलग अलग सेक्टर में अलग अलग शेयर में इन्वेस्ट करना चाहिए। इससे आपके पोर्टफोलियो में डायवर्सिफिकेशन आएगा और यह एक बैलेंस पोर्टफोलियो भी कहा जाएगा। इसके अलावा आप जिस कंपनी के बिजनेस को समझे और वह आपको valuable लगे उसमे ही इन्वेस्ट करे।

What is portfolio in share market
What is portfolio in share market

इससे आप गिरावट के समय भी एक मजबूत पोर्टफोलियो बना सकेंगे। आप अपने रिस्क फैक्टर और इन्वेस्टमेंट गोल को समझ कर ही इन्वेस्ट करे। किसी टिप या किसी अन्य के सलाह से बनाया हुआ पोर्टफोलियो अक्सर घाटे का सौदा होता है। आप चाहे तो किसी सेबी रजिस्टर रिसर्च एनालिस्ट की भी सलाह ले सकते हैं l

पोर्टफोलियो कैसे चेक करे

आपने जिस ब्रोकर के साथ भी अपना अकाउंट खोल कर रखा है आप उसके ऐप या वेबसाइट के माध्यम से आसानी से अपना पोर्टफोलियो चेक कर सकते है। इसके लिए आपको अपने ब्रोकर के प्लेटफार्म पर होल्डिंग या पोर्टफोलियो सेक्शन में जाना होगा। यहा आपको आपके सारे निवेश में बारे में पता चल जाएगा। यहां आपको इन्वेस्टेड अमाउंट, करेंट मार्केट वैल्यू, नंबर ऑफ शेयर समेत सभी जानकारी मिल जाएगी। इसे ही एक साथ पोर्टफोलियो कहा जाता है। आप यहां अपने इन्वेस्टमेंट को क्लोजली मॉनिटर कर पाएंगे। और यही से आप अपने पोर्टफोलियो को मैनेज भी कर पाएंगे जैसे की किसी शेयर को बेचना या खरीदना। आप अपने पोर्टफोलियो के मदद से सब मैनेज कर सकेंगे।

पोर्टफोलियो के प्रकार (Types of portfolio in share market)

Types of portfolio in share market का कोई फिक्स्ड प्रकार नही होता। आप अपने सहूलियत के अनुसार इसका निर्माण कर सकते है। जैसे की कुछ लोग लॉन्ग टर्म इन्वेस्टमेंट करते है जिसमे सिर्फ वैल्यू वाले शेयर्स को एड किया जाता है जो लॉन्ग टर्म में ग्रोथ दिखाते है। ठीक इसी प्रकार  डिविडेंड बेस्ड पोर्टफोलियो का भी निर्माण किया जाता है इसमें ऐसे शेयर को एड किया जाता है जो की समय समय पर अच्छा डिविडेंड देती है।

इसी तरह कुछ लॉन्ग निफ्टी 50 के शेयर्स को पोर्टफोलियो बनाते है। एक अच्छे पोर्टफोलियो में लोग अक्सर इन सभी का एक मिक्स रखते है जिसमे हर तरह के ही शेयर होते है। ऐसे पोर्टफोलियो को ही बैलेंस और डाइवर्सिफाइड पोर्टफोलियो कहा जाता है। आप अपने इनकम और इन्वेस्टमेंट के क्षमता के अनुसार ही पोर्टफोलियो का निर्माण करे।

What is portfolio in share market:Conclusion

आज के इस आर्टिकल में हमने What is portfolio in share market यह जाना। हमने इससे जुड़ी हर छोटी बड़ी बात को बारीकी से जाना। हमने शेयर मार्केट में पोर्टफोलियो कैसे बनाएं यह भी जाना। एक अच्छे पोर्टफोलियो के निर्माण को लेकर भी हमने डिस्कशन किया। उम्मीद है जानकारी आपको अच्छी लगी होगी आप अपने सुझाव या राय हमे कॉमेंट सेक्शन में बता सकते हैं। आप और किस विषय पर आर्टिकल पढ़ना चाहते है आप हमे यह भी बता सकते है। हम आपके लिए जल्द ही आपके पसंद का आर्टिकल लाने को कोशिश करेंगे। मिलते है फिर एक interesting आर्टिकल के साथ तब तक आप हमारे अन्य आर्टिकल को पढ़ कर अपना ज्ञान बढ़ा सकते है।

यह भी पढ़ें

Faq (अक्सर पूछे जाने वाले सवाल)

1. शेयर मार्केट में पोर्टफोलियो क्या होता है?

अगर आप जानना चाहते हैं कि What is portfolio in share market तो आपको बता दें शेयर मार्केट में जो कुछ भी आप इन्वेस्टमेंट करते है उसके समूह को ही पोर्टफोलियो कहा जाता है।

2. एक अच्छे पोर्टफोलियो में किन बातों का ध्यान रखे?

एक अच्छा पोर्टफोलियो डाइवर्सिफाइड होना चाहिए। जिसका मतलब है की आपको अलग अलग शेयर में अलग अलग सेक्टर में इन्वेस्टमेंट करना चाहिए।

3. डिविडेंड क्या होता है?

डिविडेंड वह अमाउंट होता है जो कंपनी अपने इन्वेस्टर्स को क्वार्टरली या एनुअल बेसिस पर देती है। यह पूरी तरह से कंपनी के डिसीजन पर निर्भर करता है और इसे कंपनी अपने शेयरहोल्डर और मैनेजमेंट के साथ डिस्कस करके देती है।

4. शेयर मार्केट में पोर्टफोलियो कैसे चेक करते है?

शेयर मार्केट में पोर्टफोलियो चेक करना काफी आसान है। इसके लिए आप अपने ब्रोकर के प्लेटफार्म का यूज कर सकते है।

5. शेयर मार्केट में कितना पैसा कमाया जा सकता है?

इसका कोई फिक्स्ड उत्तर नही है। यह व्यक्ति के स्किल और ज्ञान निर्भर करता है। शेयर मार्केट में लाभ हानि दोनो की ही संभावना बनी रहित है

Leave a Comment