forex trading meaning in hindi 2023 | forex trading kya hai

forex trading kya hai | forex trading meaning in hindi

ट्रेडिंग एक ऐसा काम है जिससे आप कही से भी अपने स्किल और समझ के आधार पर पैसे कमा सकते है। इस ट्रेडिंग को करने वाले को ट्रेडर कहते है और यह कई अलग अलग तरह के मार्केट में किया जा सकता है। जैसे की आपने सुना होगा की लोग शेयर मार्केट में ट्रेडिंग करते है, तो कुछ लोग क्रिप्टो मार्केट में ट्रेडिंग करते है। लेकिन forex trading kya hai यह काफी कम लोगो को पता होता है।

हम आपके जानकारी के लिए बता दे की हर रोज पूरी दुनिया में 5 ट्रिलियन डॉलर से भी अधिक की forex trading की जाती है। और यह दुनिया का सबसे बड़ा फाइनेंस मार्केट भी है। तो आईए जानते है की आखिर forex trading kya hai और forex trading meaning in hindi 2023.

forex trading meaning in hindi 2023.

Forex trading के हिंदी मीनिंग की बात करे तो इसे विदेशी मुद्रा का कारोबार कहते है। यह एक decentralised मार्केट है जिसका मतलब है की इसका कोई एक जगह कंट्रोल नही है। यह मार्केट के डिमांड सप्लाई पर पूरी तरह से निर्भर है। अब ये forex trading kya hai इसे जानना काफी आवश्यक है तभी जाकर आप forex trading meaning in hindi 2023 को अच्छे से जान पाएंगे। तो आईए जानते है की forex trading kya hai

Mutual Fund Sahi Hai Ya Galat | कौन सा म्यूचुअल फंड सही है

forex trading kya hai

Forex trading kya hai जानने से पहले आपको हम शेयर मार्केट क्या है यह बताना चाहेंगे। हो सकता है आप शेयर मार्केट क्या है जानते हो या नही भी, लेकिन forex trading को बेहतर तरीके से जानने के लिए इसे जानना आवश्यक है। जैसा की आपने सुना होगा या जानते भी होंगे कि शेयर मार्केट में लोग कंपनियों के शेयर खरीदते और बेचते है और इससे पैसे कमाते है।

ठीक इसी तरह forex यानी foreign exchange में लोग forex trading करते है और पैसे कमाते है। यहा आप करेंसी के pair को buy sell करके पैसे कमा सकते है। करेंसी के जोड़े (Pair) क्या है और यह सब कैसे काम करता है आईए जानते है।

Currency pair

Forex market में ट्रेडिंग करने के लिए आपको किसी भी विदेशी मुद्रा के जोड़े में ट्रेड करना होता है। जैसे डॉलर रूपया, डॉलर पाउंड, यूरो डॉलर आदि। यह जोड़े तीन प्रकार के होते है, मेजर (Major), माइनर(Minor) और एग्जॉटिक (Exoti). आईए इसे एक एक करके जानते है।

Major

 ऐसी currency pair जिसमे अमेरिकी डॉलर शामिल हो और वह एक्टिवली ट्रेड हो रही हो उसे मेजर currency कहेंगे। जैसे: EUR:USD, USD:CAD इत्यादि।

Minor

ऐसी सभी currency pair जो की यूएसडी के साथ pair नही बनाती उसे minor currency कहते है। यह मेजर के जैसे लिक्विड नही होते। जैसे: EUR:GBP, GBP:JPY, NZD:JPY इत्यादि।

Exotic pair

ये ऐसे पेयर होते है जिसमे की एक करेंसी इमर्जिंग मार्केट्स का होता है और दूसरा करेंसी कोई भी हो सकता है। जैसे: EUR:GBP, EUR:AUD इत्यादि।

Top 5 Upcoming IPO In 2024 | 2024 में आने वाले 5 जबरदस्त IPO के बारे में जाने पूरी जानकारी

Forex trading quantity

Forex trading में आपको एक दो क्वांटिटी नही बल्कि लॉट को खरीदना होता है। यह चार तरह के होते है। standard, mini, micro और nano

  • Standard: इसमें कुल 1 लाख यूनिट्स होते है।
  • Mini: इसमें कुल 10 हजार यूनिट होते है।
  • Micro: माईक्रो के अंतर्गत कुल 1 हजार यूनिट होते है
  • Nano: और अंत में नैनो के अंदर 100 यूनिट होते है।

Forex trading कैसे करे?

Forex trading करने के लिए आपके पास किसी भी Forex trading ब्रोकर का अकाउंट होना चाहिए। इसके अलावा आपके पास इंटरनेट कनेक्शन के साथ में कंप्यूटर या फिर मोबाइल फोन भी होना चाहिए इसके बाद आप अपने पैसे से फॉरेस्ट ट्रेडिंग कर सकते हैं। हालाकि, जहा यह एक और इसके कई फायदे है तो इसके कई नुकसान भी है। आईए अब हम Forex trading के फायदे और नुकसान के बारे में जानते है।

Forex trading: फायदे और नुकसान

Forex trading में हर रोज तकरीबन 5 ट्रिलियन डॉलर का ट्रांजेक्शन होता है। इस वजह से यहा काफी अच्छा वॉल्यूम और मोमेंटम देखने को मिलता है। जिसके मदद से आप अच्छा पैसा बना सकते है। साथ ही यहा कई सारे ब्रोकर आपको ढेर सारा ही लीवरेज देते है। जिससे आप कम पैसों में भी ढेर सारा क्वांटिटी buy sell कर सकते हैं।

leverage का मतलब है की ब्रोकर आपको allow करता है की आप अपने अमाउंट के कई गुना ज्यादा का buy sell कर पाए। इससे आपका मुनाफा भी बढ़ जाता है। हालाकि ये सभी चीजे जहा आपके लिए फायदेमंद हो सकती है तो यही आपके लिए नुकसानदायक भी हो सकती है। ज्यादा लेवरेज और वोलेटिल्टी की वजह से आपका नुकसान भर भर कर ही होता है।

Forex trading से जुड़े कुछ मुख्य टर्म्स

  • मार्जिन: यह वह अमाउंट है जो आपके अकाउंट में ट्रेड करते समय होना ही चाहिए।
  • लेवरेज: यह ब्रोकर के द्वारा दिए जाने वाला एक अमाउंट है जिससे आप अपने कम पैसे से भी अधिक का ट्रेडिंग कर पाएंगे।
  • पिप: फॉरेक्स ट्रेडिंग में होने वाला छोटा सा increase या decrease जो की इसके दशमलव के भाग में होता है उसे ही पिप कहते है। इसे उदाहरण से समझिए, मान लीजिए डॉलर और भारतीय रूपए का एक pair है। और यह 82.345 से 82.346 हो गया तो इसे एक पिप का ग्रोथ कहेंगे।

Conclusion

Trading के बढ़ते प्रभाव में आज हमने एक नया ट्रेडिंग का विकल्प जाना। हमने forex trading kya hai यह जाना। इसके अलावा हमने forex trading meaning in hindi 2023  के बारे में भी जाना। हमने इसके बारे में विस्तार से सब कुछ जाना।

अगर आपको इससे जुड़ा कुछ और जानना हो या आप हमे कुछ और बताना चाहते हो, तो आप कमेंट करके हमे बता सकते है। आप और किस विषय पर आर्टिकल पढ़ना चाहेंगे वह भी बताएं। मिलते है फिर अगले आर्टिकल के साथ।

FAQ (अकसर पूछे जाने वाले सवाल)

1. Forex trading kya hai?

जब आप करेंसी मार्केट में ट्रेड करते है तो उसे ही forex trading कहा जाता।

2. Forex trading कैसे करे?

इसके लिए आपको अपना खाता किसी फॉरेक्स ब्रोकर के पास ओपन करना होगा इसके बाद ही आप ऑनलाइन फॉरेक्स ट्रेडिंग कर सकते है।

3. Pip क्या होता है?

मान लीजिए डॉलर और भारतीय रूपए का एक pair है। और यह 82.345 से 82.346 हो गया तो इसे एक पिप का ग्रोथ कहेंगे।

4. Scalping क्या होता है?

जब आप बहुत कम समय में करेंसी के pair को खरीदते और बेचते है तो उसे ही scalping कहा जाता है। यह तुरंत लाभ कमाने का अच्छा विकल्प है, हालाकि इसमें लॉस का भी चांसेस अच्छा खासा होता है।।

Leave a Comment